बुनियादी इन्टरनेट शब्दावली – Basic Internet Terminologies

  • URL – U. R . L . से तात्पर्य यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर ( Uniform Resource Locator) है।  यह इंटरनेट पर उपलब्ध संसाधन का पता होता है या हम यह भी कह सकते हैं की यह किसी भी वेब पेज का पता होता है जो किसी सर्वर पर स्टोर है। URL  के माध्यम से हम उस पेज पर जा सकते हैं जिसका यूआरएल है। उदा. http://www.techsahaayata.com/
  • ब्राउज़र (BROWSER )– ब्राउज़र  एक सॉफ्टवेयर है जो यूजर को HTML  डॉक्यूमेंट को देखने तथा उन डाक्यूमेंट्स से सम्बंधित फाइल्स तथा सॉफ्टवेयर को एक्सेस करने में सहायक होता है। 
  • डोमेन (DOMAIN )-  डोमेन इंटरनेट पर वेबसाइटों  का एक सेट  होता है जो एक समान अक्षरों के समूह पर समाप्त होता है।  उदहारण, .COM  साइटों  के वाणिज्य प्रकार को व्यक्त करता है जबकि .ORG  संगठन श्रेणी की साइट्स के लिए है।  डोमेन पता का अंतिम हिस्सा होता है। 
  • हाइपरलिंक (HYPERLINK ) – हाइपरलिंक , दो डॉक्यूमेंट को आपस में जोड़ने का एक लिंक होता है। उस लिंक पर क्लिक करने से यूजर उस डॉक्युमेंट पर  पहुंच जाता है जो उससे लिंक किया जाता है। 
  • फ्रीवेयर (FREEWARE ) – फ्रीवेयर कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का एक प्रकार है जो इंटरनेट पर निशुल्क दिया जाता है। 
  • शेयरवेयर (Shareware)– शेयरवेयर कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का एक प्रकार है जो यूजर को परिक्षण के लिए निशुल्क दिया जाता है परन्तु एक समय सीमा के बाद तक प्रयोग करने पर उन्हें सॉफ्टवेयर को खरीदना पड़ता है। 
  • स्पाइवेयर (Spyware )– यह एक सॉफ्टवेयर है जो इंटरनेट से डाउनलोड किए  गए किसी  सॉफ्टवेयर के साथ गुप्त रूप से डाउनलोड हो जाता है तथा आपके निजी सूचना जैसे -कोन सा वेबसाइट आप प्रयोग करते हैं और आपके कार्ड की डिटेल आदि को संकलित करता है तथा इन सूचनाओं का प्रयोग आपकी सहमति के अपने फायदे के लिए करता है। 
  • ब्लॉग (Blog )– ब्लॉग वेबलॉग (weblog) का संक्षेप रूप है।  यह एक प्रकार का वेबसाइट है जहाँ लोग  किसी भी टॉपिक(जैसे -राजनीती , कुकिंग,) पर अपनी बात लिखते हैं। 
  • वेबसाइट (Website)- वेबसाइट इंटरनेट से जुड़ा हुआ  एक स्थान होता है जहाँ कोई कंपनी या संगठन या कोई व्यक्ति सूचना को रख सकता है। 
  • वेबपेज (webpage) – वेबपेज एक html  भाषा से बना एक वेबडॉक्यूमेंट होता है जो वर्ल्ड वाइड वेब से जुड़ा होता है तथा यह एक वेबसाइट का हिस्सा होता है।
  • होमपेज (Homepage) – होमपेज किसी भी वेबसाइट का मुख्य पेज होता है जिसमें बाकी पेज पर जाने की लिंक होती हैं। 
  • प्रोटोकॉल (Protocol)– प्रोटोकॉल नियमों का एक समूह होता है जो उस विधि को नियंत्रित करता है जिस विधि से कम्प्यूटरों के मध्य डाटा भेजा जाता है। 
  • सर्च इंजन (Search  Engine )– सर्च  इंजन आपके लिए इंटरनेट पर सूचना खोजने का कार्य करता   है। इसके माध्यम से आप कोई भी सूचना आसानी से खोज सकते हैं। 
  • सर्वर (Server)– सर्वर एक कंप्यूटर प्रोग्राम है जो किसी नेटवर्क से जुड़े  अनेकों कम्प्यूटरों पर सूचना को नियंत्रित करता है या भेजता है।  अथवा , सर्वर वह मुख्य कंप्यूटर है जिस पर सर्वर प्रोग्राम चलाया जाता है। संक्षेप में , वह कंप्यूटर जो कुछ देता है या पेश करता है  सर्वर कहलाता है। 
  • होस्ट (Host)-  होस्ट किसी नेटवर्क का मुख्य कंप्यूटर होता है जो इससे जुड़े अन्य कंप्यूटर   पर सूचना को नियंत्रित करता है तथा सूचना भेजता है। 
  • क्लाइंट(Client) – क्लाइंट वह कंप्यूटर है जो सर्वर से जुड़ा होता है। अन्य शब्दों में , क्लाइंट एक कंप्यूटर है जो सर्वर से रिक्वेस्ट कर सर्विस प्राप्त करता है। 
  • हैकर (Hacker)- हैकर एक कंप्यूटर जीनियस पर्सन (Person )होता है।  जिसके पास कंप्यूटर सम्बन्धी ज्ञान बहुत अधिक होता है। और वह कंप्यूटर सम्बन्धी सुरक्षा में कमी  खोजने में मदद करता है। 
  • क्रैकर (Cracker)- क्रैकर वह व्यक्ति होता है जो कंप्यूटर सिस्टम के सुरक्षा उपायों पर अपना नियंत्रण बनाने के बाद उस सिस्टम पर अनधिकृत एक्सेस प्राप्त कर गैरकानूनी तौर पर सूचना प्राप्त करता है अथवा गैरकानूनी तौर  पर कंप्यूटर संसाधनों का प्रयोग अपने गलत उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए करता है। 
  • डाउनलोड (Download)-यह सर्वर कंप्यूटर  से क्लाइंट कंप्यूटर  पर डाटा के ट्रांसफर  की प्रोसेस है। 
  • अपलोड (Upload )- यह  क्लाइंट कंप्यूटर से सर्वर कंप्यूटर पर डाटा के  ट्रांसफर की प्रोसेस है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here